Sunday, December 4, 2022

Lata Mangeshkar Interest In Cricket क्रिकेट से भी ख़ास लगाव रखती थी लता मंगेशकर, भारतीय टीम के लिए एक बार फ्री में किया था कॉन्सर्ट

इंडिया न्यूज़, नई दिल्ली:

Lata Mangeshkar Interest In Cricket: भारत की सबसे बड़ी गायिका लता मंगेशकर जी का रविवार को 92 साल की उम्र में निधन हो गया। लता मंगेशकर ने मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में सुबह 8:12 बजे अंतिम सांस ली।

28 जनवरी के आसपास, गायिका की हालत में सुधार के मामूली लक्षण दिखने के बाद उन्हें वेंटिलेटर से हटा दिया गया था। हालांकि, 5 फरवरी को उनकी हालत दोबारा बिगड़ गई और वह वेंटिलेटर सपोर्ट पर वापस आ गई। लता जी का क्रिकेट से भी ख़ास लगाव था। उन्हें क्रिकेट देखने का काफी शौक था।

क्रिकेट से था करीबी रिश्ता (Lata Mangeshkar Interest In Cricket)

भारत की महान गायिका लता मंगेशकर जी का क्रिकेट से काफी करीबी रहता था। वें 1983 का वर्ल्ड कप फाइनल देखने लॉर्ड्स भी गई थी। कपिल देव, सुनील गावस्कर, सचिन तेंदुलकर से लेकर महेंद्र सिंह धोनी तक वें कईं खिलाड़ियों को पसंद करती थी। बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष राज सिंह डूंगरपुर भी उनके करीबी दोस्त थे।

जब लता जी को भारत रत्न से सम्मानित किए जाने की खबर आई थी, उस समय राज सिंह डूंगरपुर लंदन में लता जी के साथ ही थे। 1983 वर्ल्ड कप फाइनल से पहले लता जी ने रात को भारतीय टीम को खाने पर भी आमंत्रित किया था। उन्होंने चैंपियन बनने के बाद भारतीय टीम को फिर से खाने पर बुलाया था।

फ्री में किया था कॉन्सर्ट (Lata Mangeshkar Interest In Cricket)

लता जी ने एक बार बीबीसी को दिए गए इंटरव्यू में बताया था कि उन्होंने 1983 वर्ल्ड कप जीत के बाद टीम के लिए एक फ्री कॉन्सर्ट किया था। उस समय भारतीय क्रिकेट बोर्ड के पास पर्याप्त पैसे नहीं थे। इसलिए उन्होंने पैसे जुटाने के लिए एक स्पेशल कॉन्सर्ट किया था। दिल्ली के इंद्रप्रस्थ स्टेडियम में आयोजित एक संगीत कार्यक्रम में हमने 20 लाख रूपए जुटाए थे।

यह कॉन्सर्ट लगभग 4 घंटे चला था। इस कॉन्सर्ट के बाद भारतीय टीम के सभी खिलाड़ियों को 1-1 लाख रूपए दिए गए थे। क्योंकि उस समय खिलाड़ियों को बहुत कम पैसे दिए जाते थे। लेकिन 2011 में वर्ल्ड कप जीतने के बाद खिलाड़ियों को बीसीसीआई ने 2-2 करोड़ रूपए दिए थे।

मैच से पहले था तनाव भरा माहौल (Lata Mangeshkar Interest In Cricket)

लता जी ने इंटरव्यू में आगे बताया की वर्ल्ड कप 1983 के फाइनल से पहले तनाव भरा माहौल बना हुआ था। लेकिन जब मैच शुरू हुआ, तो मेरे अंदर जीत का भरोसा बढ़ा। लेकिन क्रिकेट एक ऐसा गेम है, जहां कब क्या हो जाए कुछ भी पता नहीं। क्रिकेट जैसे गेम में कभी भी मैच पलट सकता है।

फाइनल से पहले टीम के साथ मेरी मुलाक़ात हुई थी और मैंने टीम को कहा थी की ये मैच हम ही जीत रहें हैं। उस मैच में हमारे सभी खिलाड़ियों ने जी-जान लगा दी और भारत ने पहली बार वर्ल्ड कप जीता।

Lata Mangeshkar Interest In Cricket

Also Read : U19 WC Finals 2022 Result दिनेश बाना ने धोनी की दिलाई याद, छक्का जड़कर भारत को बनाया विश्व चैंपियन

Connect With Us: Twitter Facebook

- Advertisement -
Naveen Sharma
Naveen Sharma
Sub Editor, India News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related

यात्रा के दौरान भारतीय टीम ऑलराउंडर दीपक चाहर सहित कुछ खिलाड़ियों का खोया सामान

(नई दिल्ली): भारतीय ऑलराउंडर दीपक चाहर सहित टीम इंडिया...