Thursday, December 1, 2022

Roger Binny: बीसीसीआई के नए अध्यक्ष रोजर बिन्नी के बारे में जाने कुछ अनकही बातें

1983 वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम के सदस्य रहे रोजर बिन्नी को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के नए अध्यक्ष के रुप में चुना गया है। वह बीसीसीआई के 36वें अध्यक्ष हैं। रोजर सौरव गांगुली की जगह पद संभालेंगे। गांगुली 2019 से 2022 तक बीसीसीआई अध्यक्ष पद पर रहे। बीसीसीसीआई की एनुअल जनरल मीटिंग (एजीएम) में यह फैसला लिया गया।

1983 वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे थे रोजर

रोजर 1983 वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम के वह अहम सदस्य रहे थे। उस वर्ल्ड कप में उनका योगदान काफी अहम था। कपिल देव की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने इस वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन किया था और क्रिकेट के इतिहास में पहली बार वर्ल्ड कप ट्रॉफी भारत के नाम कि थी। इस टूर्नामेंट में रोजर बिन्नी ने कमाल को प्रर्दशन दिखाते हुए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे थे। उन्होंने कुल 18 विकेट लिए थे। उस टूर्नामेंट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 29 रन देकर चार विकेट उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा था। यह उनके वनडे करियर का बेस्ट परफॉर्मेंस भी है।

रोजर बिन्नी की देखरेख में टीम इंडिया ने अंडर-19 वर्ल्ड कप जीता

बिन्नी कि देख रेख में टीम इंडिया एक और वर्ल्ड कप जीत चुकी है। रोजर बिन्नी साल 2000 में भारतीय अंडर-19 टीम के कोच भी रहे थे। तब टीम इंडिया ने अंडर-19 वर्ल्ड कप जीता था। मोहम्मद कैफ की कप्तानी और रोजर बिन्नी की कोचिंग में भारतीय टीम ने वर्ल्ड कप जीता था। उस टीम में युवराज सिंह और वेणुगोपाल राव जैसे क्रिकेटर भी शामिल थे।

टीम इंडिया में खेलने वाले पहले एंग्लो इंडियन

67 साल के रोजर बिन्नी का जन्म कर्नाटक के बेंगलुरु में हुआ था. बिन्नी भारत की तरफ से खेलने वाले पहले एंग्लो-इंडियन प्लेयर थे. 1977 में रोजर बिन्नी ने कर्नाटक टीम के लिए केरल के खिलाफ 211 रन बनाए थे. इसके बाद डोमेस्टिक क्रिकेट में उनका नाम चलने लगा.उन्होने न 1979 में अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत की थी।

ऑलराउंडर बिन्नी ने बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में 1979 में पाकिस्तान के खिलाफ नेशनल टीम के लिए डेब्यू किया था. रोजर बिन्नी का करियर 1979 से लेकर 1987 तक चला। भारतीय टीम के लिए उन्होंने 27 टेस्ट और 72 वन-डे मैच खेले हैं. टेस्ट में बिन्नी के नाम 47 विकेट और वनडे में 77 विकेट हैं। इसके अलावा बिन्नी ने टेस्ट में 830 रन और वनडे में 629 रन बनाए हैं।

बिन्नी भारतीय टीम के चयनकर्ता भी रह चुके

रोजर बिन्नी बंगाल क्रिकेट टीम के कोच भी रह चुके हैं। यह वही राज्य हैं जहां से सौरव गांगुली ताल्लुक रखते हैं। इसके अलावा बिन्नी भारतीय टीम के चयनकर्ता भी रह चुके हैं। उन पर कई बार यह भी आरोप लग चुके हैं कि उनकी वजह से उनके बेटे स्टुअर्ट बिन्नी को टीम इंडिया में जगह मिली। स्टुअर्ट भी पिता की तरह एक ऑलराउंडर हैं। उन्होंने भारत के लिए छह टेस्ट, 14 वनडे और तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय में हिस्सा लिया।

रोजर के बेटे स्टुअर्ट भी टीम इंडिया के लिए खेल चुके

टेस्ट में स्टुअर्ट ने 21.56 की औसत से 194 रन बनाए और तीन विकेट लिए। वहीं, 14 वनडे में उन्होंने 28.75 की औसत से 230 रन और 20 विकेट झटके। तीन टी20 में स्टुअर्ट के नाम 120.69 की औसत से 35 रन और एक विकेट है। भारत की तरफ से वनडे में सबसे बेहतरीन गेंदबाजी का रिकॉर्ड स्टुअर्ट बिन्नी के नाम ही है। उन्होंने 2014 में बांग्लादेश के खिलाफ सिर्फ चार रन देकर छह विकेट झटके थे। स्टुअर्ट बिन्नी की पत्नी मयंती लैंगर स्पोर्ट्स एंकर हैं।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related