Saturday, July 2, 2022

Virat Kohli Announced to Step Down as Test captain: क्या कम्फर्ट जोन में नहीं थे विराट कोहली?

Virat Kohli Announced to Step Down as Test captain

मनोज जोशी, नई दिल्ली:
Virat Kohli Announced to Step Down as Test captain: जिस कप्तान की अगुवाई में टीम इंडिया (India) 42 महीनों तक नम्बर वन रही हो, जो तीन बार आईसीसी टीम ऑफ द ईयर (ICC Team of the Year) ट्रॉफी जीतने वाला दुनिया का इकलौता कप्तान रहा हो, जिसके पास 29 अलग-अलग मैदानों पर टेस्ट जीतने का तजुर्बा हो। जिसकी कप्तानी में भारत ने वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप (World Test Championship) का फाइनल खेला हो।

ऑस्ट्रेलिया (Australia) को ऑस्ट्रेलिया में हराने वाली पहली एशियाई टीम के कप्तान होने का गौरव हासिल हो और वह सेना देशो में सबसे ज्यादा टेस्ट जीतने वाला एशियाई कप्तान भी रहा हो, उस खिलाड़ी को अचानक ट्विटर पर टेस्ट की भी कप्तानी छोड़ने का ऐलान करना बहुत कुछ बयान करता है।

कप्तानी के दबाव को बल्लेबाजी पर हावी नहीं होने दिया

भारत की ओर से सबसे ज्यादा कप्तानी, सबसे ज्यादा मैच जीतने और विदेश में 40 में से 16 मैच जीतने का अदभुद रिकॉर्ड नाम करना – वास्तव में बड़ी उपलब्धि है। जिस टीम को मौजूदा सीजन में ज्यादा मैच अपनी जमीं पर खेलने हों विराट चाहते तो इस मौके का फायदा उठाकर स्टीव वॉ (Steve Waugh), रिकी पॉन्टिंग (Ricky Ponting) और ग्रेम स्मिथ (Graeme Smith) के कप्तानी के रिकॉर्ड को तोड़ने पर ध्यान लगाते। विराट ऐसे कप्तान रहे जिन्होंने कप्तानी के दबाव को बल्लेबाजी पर हावी नहीं होने दिया। बतौर कप्तान टेस्ट में 7 डबल सेंचुरी और 20 सेंचुरी लगाना इसकी बड़ी मिसाल है। तीनों फॉर्मेट में 50 से अधिक का औसत बनाना उन्हें विलक्षण बनाता है।

खराब प्रदर्शन का ठीकरा कप्तान पर ही फोड़ा जाता

यह ठीक है कि पिछले दो वर्षों में विराट वैसा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे थे, जिसके लिए वह जाने जाते हैं। टेस्ट में उनका औसत लगातार नीचे जा रहा था। एक भी आईसीसी ट्रॉफी न जीत पाने का दबाव था। फिर साउथ अफ्रीका दौरे में जाने से पहले जो कुछ हुआ, वह किसी से छुपा नहीं था। क्या चयन समिति के अध्यक्ष चेतन शर्मा के इस बयान ने आग में घी का काम नहीं किया जिसमें उन्होंने कहा कि सौरभ ने चयनकर्तांओं के बीच विराट के सामने वनडे की कप्तानी से हटाये जाने की बात की थी।

यह बयान टेस्ट सीरीज के दौरान ही आया था। यह भी सच है कि भारत में लम्बे समय से ऐसा देखा जाता है कि खराब प्रदर्शन का ठीकरा कप्तान पर ही फोड़ा जाता है। इस बात को सुनील गावसकर ने भी माना है। उन्होंने कहा कि एक कप्तान के रूप में उन्होंने अनुभव किया है कि विदेशों में सीरीज हार को क्रिकेट प्रेमी और बोर्ड हल्के से नहीं लेते। ऐसी स्थिति में विराट कोहली को भी टेस्ट कप्तानी से बर्खास्त किए जाने का खतरा था।

ऐसा अतीत में हुआ है और उन्हें यकीन था कि इस बार भी ऐसा हो सकता था क्योंकि यह एक ऐसी सीरीज थी जिसमें भारत से आसानी से जीतने की उम्मीद की जा रही थी लेकिन वहीं बीसीसीआई की ओर से कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने भी साफ कर दिया कि साउथ अफ्रीका से सीरीज हारने पर कप्तानी छोड़ने का विराट पर कोई दबाव नहीं था। यह उनका अपना फैसला था और बोर्ड इसका सम्मान करता है।

विराट को समझने वाला ही उनके माइंडसेट को पढ़ सकता

संजय मांजरेकर ने सवाल उठाया है कि द्रविड़ के कोच पद सम्भालने के बाद वह उतने कम्फर्ट जोन में नहीं रह गये थे और आर अश्विन का यह कहना कि आपने ऐसे बीज बोने का काम किया है जिससे अच्छी फसल तैयार हुई लेकिन साथ ही कप्तानी छोड़ने से उत्तराधिकार की समस्या खड़ी हो गई है। इन दोनों बातों में दम है क्योंकि विराट के माइंडसेट को वही पढ़ सकता है, जो उन्हें अंदर तक समझता हो। रवि शास्त्री बेशक उनके यसमैन थे लेकिन वह टीम हित में जैसा चाहते थे, वैसा शास्त्री ने उन्हें करने दिया जो शायद द्रविड़ के समय में सम्भव नहीं था।

दोनों में मूलभूत फर्क ही यह है कि द्रविड़ साउथ अफ्रीका में छह बल्लेबाजों के साथ उतरना चाहते थे। अपनी कप्तानी में भी उन्होंने चार बॉलर्स के साथ उतरने का यही फॉमूर्ला अपनाया था लेकिन विराट की सोच उनसे अलग थी। उधर अश्विन का उत्तराधिकार का मामला उठाना भी जायज है क्योंकि न तो केएल राहुल उतने कंसिस्टेंट हैंं और न ही रोहित शर्मा उतने फिट। ये दोनों बाते कप्तान के लिए काफी मायने रखती हैं। यहां तक कि धोनी भी विराट को अपना उत्तराधिकारी बनाकर गये थे लेकिन यहां यह समस्या आज गम्भीर है।

अनुष्का ने लिया विराट का पक्ष

अंत में अनुष्का शर्मा ने जो कहा उससे विराट को सम्पूर्णता में समझा जा सकता है। उन्होंने लिखा है कि धन्य हैं वे लोग जिन्होंने आपको ठीक से जानने की कोशिश की है। आप परफेक्ट नहीं हैं और आप में भी खामियां हैं लेकिन, आपने उन्हें छिपाने की कोशिश भी कभी नहीं की है? यही है विराट का असली चेहरा, जिसे उनकी पत्नी से बेहतर शायद ही कोई पढ़ पाये।

Read More : IND vs SA Under 19 World Cup Live साउथ अफ्रीका ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला लिया

Read More : virat Kohli steps down as India Test captain विराट कोहली ने भारत के टेस्ट कप्तान का पद छोड़ा

Read More : SL vs ZIM 3 Match ODI Series श्रीलंका बनाम जिम्बाब्वे 3 मैच की वनडे सीरीज

Connect With Us: Twitter Facebook

Vaibhav Shukla
Sub-Editor @ India News, Everything seems impossible until it's done. Sports Enthusiast by Profession

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related

Garena Free Fire Max Redeem Code Today 2 July 2022

इंडिया न्यूज़, नई दिल्ली: Garena Free Fire Max Redeem Code...

COD Mobile Redeem Code Today 2 July 2022

इंडिया न्यूज़, नई दिल्ली: COD Mobile Redeem Code Today 2...

Garena Free Fire Max Redeem Code Today 1 July 2022

इंडिया न्यूज़, नई दिल्ली: Garena Free Fire Max Redeem Code...