Sunday, January 29, 2023

फीफा के एआईएफएफ पर निलंबन का असर भारत की चैंपियन महिला फुटबॉल टीम पर, उज्बेकिस्तान में फंसी गोकुलम केरला एफसी

वैभव शुक्ला, नई दिल्ली | Effect of FIFA’s suspension on AIFF : सोमवार की देर शाम जब फीफा ने अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ को निलंबित कर दिया था। फीफा ने तीसरे पक्ष द्वारा गैर जरूरी दखल का हवाला देकर एआईएफएफ को निलंबित किया था। इसके साथ ही भारत में 11 से 30 अक्टूबर तक होने वाले फीफा अंडर 17 महिला विश्व कप की मेजबानी भी खतरे में पड़ गई है। साथ ही भारतीय फुटबॉल टीम किसी इंटरनेशनल इवेंट में खेल पाएगी। IIFA के इस कदम के बाद भारतीय फुटबॉल को बड़ा झटका लगा है।

भारतीय टीम पर फीफा ने लगाया बैन

Effect of FIFA's suspension on AIFF

इस बैन का सबसे पहला प्रभाव एएफसी विमेंस क्लब चैंपियनशिप में हिस्सा लेने गई गोकुलम केरला एफसी विमेन टीम पर पड़ा है। फीफा द्वारा भारत पर लगाए गए बैन की वजह से टीम अब इस प्रतियोगिता में भाग नहीं ले पाएगी। यह प्रतियोगिता उज्बेकिस्तान के ताशकंद में आयोजित किया गया है। टीम की 23 महिला सदस्य इस इवेंट में खेलने गयी थीं। फीफा के बैन की वजह से भारत से 1500 किलोमीटर दूर 23 खिलाड़ी एक नए देश में फंसे हैं।

प्रतिबंध के बाद से ताशकंद में फंसी भारतीय टीम

गोकुलम केरल महिला टीम, 2019 से भारतीय महिला लीग की चैंपियन है। टीम ने पिछले साल खिताब जीतने के बाद एएफसी महिला क्लब चैम्पियनशिप के लिए क्वालीफाई किया था। टूनार्मेंट 23 अगस्त से 26 अगस्त तक खेला जाना है। लेकिन फीफा के प्रतिबंध की वजह से टीम ताशकंद में फंसी हुई है। क्लब ने पीएमओ कार्यालय को पत्र भेजकर हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है ताकि वह प्रतियोगिता में भाग ले सकें।

गोकुलम केरल एफसी ने पीएमओ कार्यालय को लिखे पत्र में कहा है कि “हमारी टीम 16 अगस्त 2022 की तड़के कोझीकोड से ताशकंद, उज्बेकिस्तान पहुंची। आगमन पर, हमने विभिन्न मीडिया आउटलेट्स के माध्यम से सुना कि फीफा ने AIFF पर प्रतिबंध लगा दिया है। क्लब इसलिए तब तक अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाग लेने के हकदार नहीं हैं जब तक कि निलंबन हटा नहीं लिया जाता।”

एशियाई फुटबॉल परिसंघ ने भारतीय महासंघ को भेजा पत्र

“प्रतिष्ठित एएफसी महिला क्लब चैम्पियनशिप में भाग लेने के लिए, हमने 18 जून से 60 दिनों तक प्रशिक्षण लिया और 16 अगस्त 2022 को ताशकंद पहुंचे। एशियाई फुटबॉल परिसंघ ने 16 अगस्त, 2022 को अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ को एक पत्र भेजा, जिसमें कहा गया है कि हमारा क्लब अब एएफसी महिला क्लब प्रतियोगिता 2022 में भाग लेने के लिए पात्र नहीं है।”

पत्र में आगे कहा गया कि “हालांकि, AIFF ने हमारे क्लब को कोई मेल या पत्र नहीं भेजा है, यह अनुमान लगाते हुए कि फीफा द्वारा एक दो दिनों के भीतर प्रतिबंध हटा लिया जाएगा। हमारे क्लब की महिला फुटबॉल टीम में 21 की औसत उम्र के साथ 23 खिलाड़ी शामिल हैं। ताशकंद में मैदान पर उतरी, निराशा के साथ-साथ संकट के साथ, हमारी तैयारी मानसिक और शारीरिक रूप से खराब हो गई थी।”

Read More : गुरुग्राम में सीएम मनोहर लाल ने किया राष्ट्रमंडल खेलों के पदकवीरों का सम्मान, सांसद कार्तिक शर्मा ने सीएम को भेंट की द ग्रेट इंडिया रन की मशाल

Also Read : नई दिल्ली में द ग्रेट इंडिया रन 2022 का भव्य समापन

Also Read : द ग्रेट इंडिया रन पहुंची रूपनगर, धावकों ने पूरा किया 535 KM का सफर

Also Read : होशियारपुर पहुंची द ग्रेट इंडिया रन, 5वें दिन धावकों ने 100 किलोमीटर दौड़ की पूरी

Connect With Us : Twitter | Facebook Youtube 

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related