Wednesday, February 1, 2023

FIFA World Cup: लियोनल मेसी, क्रिस्टियानो रोनाल्डो और एम्बाप्पे ते कही ज्यादा बेहतर हैं पेले, नाम है 3 वर्ल्ड कप

(नई दिल्ली): लियोनल मेसी और क्रिस्टियानो रोनाल्डो आज किसी पहचान के मोहताज नही हैं इन्हे बेस्ट फुटबॉलर में गिना जाता हैं। वहीं, एम्बाप्पे को फीफा वर्ल्ड कप 2022 के बाद से फ्यूचर स्टार का नाम दिया जा रहा है, लेकिन अगर GOAT की बात करें तो यह कह पाना मुश्किल है कि असल में ग्रेटेस्ट ऑफ ऑल टाइम कौन हैं, क्योंकि इन नामों के बीच ब्राजील के महान फुटबॉलर पेले भी आते हैं। पेले इस दुनिया के इकलौते खिलाड़ी हैं, जिन्होंने 3 वर्ल्ड कप जीते हैं।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 790 गोल, पेले के पास 767

अर्जेंटीना के लियोनल मेसी के नाम पर क्लब और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कुल 790 गोल हैं, जबकि माना जाता है कि पेले के पास 767 हैं। यह आंकड़ा आज भी विवादित है। पेले का कहना है कि उन्होंने 1,000 से ज्यादा गोल किए हैं। फीफा की ऑफिशियल वेबसाइट के आधार पर इंटरनेशनल और क्लब फुटबॉल समेत पेले के कुल 1,281 गोल हैं।

मेसी के पास हैं शानदार ड्रिब्लिंग स्किल्स

पेले के समय रेड और यलो कार्ड नहीं होते थे। फाउल के नियम भी कठिन थे। इस वजह से पेले डिफेंडर के खिलाफ बॉडी का यूज अच्छे से करते थे। वह इस स्किल की वजह से फेमस थे। दूसरी ओर मेसी सेट-पीस यानी फ्री किक और कॉर्नर से गोल कन्वर्ट करने में आगे हैं।

मेसी के पास शानदार ड्रिब्लिंग स्किल्स हैं, वे मिडफील्ड से बॉल को आगे अकेले ले जाने की प्रतिभा रखते हैं। यह उन्हें एक ऑल राउंड प्लेयर बनाता है। पेले ने 2011 में मेसी पर तंज कसते हुए कहा था कि मेसी एक अपूर्ण खिलाड़ी हैं, क्योंकि वे हेडर स्कोर नहीं कर पाते।

पेले ने मारे सबसे ज्यादा बेहतर गोल

फीफा वर्ल्ड कप की बात करें तो रोनाल्डो अब तक इस टूर्नामेंट को नहीं जीत पाए। जबकि पेले के नाम 3 वर्ल्ड कप हैं। वे अकेले खिलाड़ी हैं जिनके पास 3 वर्ल्ड कप हैं। यह बताता है कि नेशनल टीम ब्राजील में उनकी मौजूदगी कितनी अहम रही है। ट्रॉफी के मामले में पेले हमेशा रोनाल्डो से आगे रहेंगे।

माना जाता है कि 1950 और 1960 के दशक के दौरान फुटबॉल आज से ज्यादा कठिन था। इसी समय पेले ने ज्यादा फुटबॉल खेला। इस समय ज्यादातर टीमें पिच पर समान रूप से संतुलित थीं। सभी टीमों को बराबरी से आंका जाता था। आजकल गेंद काफी हल्की होती है, जिससे हेडर मारना काफी आसान हो जाता है। ऐसे में पेले के इतने गोल करना ज्यादा बेहतर माना जा सकता है।

इस समय हैं पेले एम्बाप्पे से बेहतर

पेले और एम्बाप्पे की तुलना करना मुश्किल है, क्योंकि अभी एम्बाप्पे सिर्फ 24 साल के हैं। उनके आगे पूरा करियर पड़ा है, लेकिन अब तक उन्होंने क्लब और इंटरनेशनल फुटबॉल में कुल 100 गोल का आंकड़ा पार कर लिया है। इसलिए हमने पेले और एम्बाप्पे की तुलना करने के लिए 23 की उम्र तक दोनों के गोल स्कोर निकाले हैं।

हालांकि पेले ने 1971 यानी 30 की उम्र में इंटरनेशनल फुटबॉल से संन्यास ले लिया था। अगर 24 साल के एम्बाप्पे 34 से 36 साल की उम्र तक भी खेलते हैं तो वे पेले की बराबरी कर सकते हैं, लेकिन इस समय पेले एम्बाप्पे से बेहतर हैं।

महान फुटबॉलर पेले का 82 साल में हो गया था निधन 

अपको बता दे कि ब्राजील के महान फुटबॉलर पेले का गुरुवार देर 82 साल की उम्र में निधन हो गया। उनकी बेटी कैली नैसिमेंटो ​​​​​ने सोशल मीडिया पर उनके निधन की जानकारी दी। पेले पेट के कैंसर से जूझ रहे थे।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related