Wednesday, October 5, 2022

कप्तानी और गोलकीपर की दोहरी जिम्मेदारी को अलग अलग प्रशिक्षण की जरूरत : सविता पूनिया

मनीष गोस्वामी, नई दिल्ली| Savita Punia : भारतीय महिला हॉकी टीम की कप्तान सविता पूनिया का मानना है कि कप्तानी और गोलकीपर दोहरी जिम्मेदारी है और दोनो को अलग अलग प्रशिक्षण करने की जरूरत है, जिससे दबाव की स्थिति में टीम को कुशलता से संभाल सके।

दोहरी जिम्मेदारियों के बारे में बात करते हुए सविता ने कहा कि, “गोलकीपर के रूप में एक अलग तरह की जिम्मेदारी होती है। एक अनुभवी गोलकीपर के तौर पर मैं हमेशा इस सोच के साथ ट्रेनिंग करती हूं कि मुझे टीम की मदद करनी है। एक कप्तान के तौर पर आपकी जिम्मेदारी और भी बढ़ जाती है। आपको अपने साथ-साथ टीम के खेल और प्रदर्शन को भी संभालना होता है।”

उन्होंने कहा कि,” “यह संभव है कि आपकी टीम हर दिन अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पायेगी, ऐसे वक्त में आपको एक कप्तान के रूप में उन्हें प्रेरित करना होगा। मुख्य कोच जेनेके शोपमैन के साथ काम करते वक्त हम अपनी जिम्मेदारियों को बांट लेते है जिससे मैं कम दबाव महसूस करती हूं और स्वतंत्र होकर खेल पाती हूं।

सविता ने एफआईएच प्रो लीग 2021-22 के पहले सीज़न में भारतीय हॉकी टीम का नेतृत्व किया था। इस लीग में टीम तीसरे स्थान पर रही थी। उन्होंने बर्मिंघम 2022 राष्ट्रमंडल खेल में भारतीय हॉकी टीम का नेतृत्व किया। राष्ट्रमंडल खेल 2022 में भारतीय टीम कांस्य पदक जीतने में सफल रही थी।

एफआईएच महिला गोलकीपर ऑफ द ईयर अवार्ड 2021-22 के लिए हुआ नामांकन

Savita Punia

सविता ने एफआईएच महिला गोलकीपर ऑफ द ईयर अवार्ड 2021-22 के लिए नामांकित होने पर आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि, “वह सही दिशा में आगे बढ़ रही हैं।“ पिछले संस्करण में भी इसी वर्ग में सविता ने पुरस्कार जीता था।
आभार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि, “लगातार दो वर्षों तक एफआईएच महिला गोलकीपर ऑफ द ईयर अवार्ड के लिए नामांकित होने पर मुझे काफी अच्छा लग रहा है। हमने टोक्यो ओलंपिक 2020 के बाद पूरे साल कड़ी मेहनत की है। इस साल फिर से नामांकन मिलने से मुझे लगता है कि मैं प्रशिक्षण में सही दिशा में आगे बढ़ रही हूं।”

राष्ट्रमंडल खेल 2022 में पदक जीतने से टीम में सकारात्मक माहौल

Savita Punia

भारतीय हॉकी टीम ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 में कांस्या पदक जीता था। सविता ने कहा कि, “राष्ट्रमंडल खेल 2022 में पदक जीतने से टीम में सकारात्मक माहौल बना है। राष्ट्रमंडल खेल 2022 में पदक जीतने के बाद हम सभी काफी प्रेरित महसूस कर रहे थे और शिविर शुरू करने के लिए काफी उत्सुक थे। सभी खिलाड़ी शिविर में वास्तव में कड़ी मेहनत कर रहे हैं। हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण टूर्नामेंट अगले साल होने वाला एशियाई खेल है। हम दिसंबर में एफआईएच नेशंस कप में भी हिस्सा लेंगे, लेकिन हमारा मुख्य लक्ष्य एशियाई खेलों के लिए तैयारी करना है।”

इन खिलाड़ियों का भी हुआ एफआईएच अवार्ड के लिए नामांकन

Savita Punia

सविता के अलावा, हरमनप्रीत सिंह (एफआईएच प्लेयर ऑफ द ईयर मेन), पीआर श्रीजेश (एफआईएच गोलकीपर ऑफ द ईयर मेन), संजय (एफआईएच राइजिंग स्टार ऑफ द ईयर मेन), मुमताज खान (एफआईएच राइजिंग स्टार ऑफ द ईयर महिला), ग्राहम रीड (एफआईएच मेन्स टीम कोच ऑफ द ईयर मेन) और जेनेके शोपमैन (एफआईएच वूमेन टीम कोच ऑफ द ईयर वूमेन) को भी एफआईएच हॉकी स्टार अवार्ड्स 2021-22 के लिए नामांकित किया गया है।

Read More : रोहन की जगह साकेत होंगे टीम में शामिल, 16 और 17 सितंबर को नॉर्वे के खिलाफ खेलेगा भारत

Read More : It is looks even tie on papers : Rohit Rajpal on India vs Norway Davis Cup tie

Read More : कबड्डी मैच में अरविंदों काॅलेज ने माता सुंदरी काॅलेज को हराया

Connect With Us: Twitter Facebook
Harpreet Singh
Harpreet Singh
Content Writer And Sub editor @indianews. Good Command on Sports Articles. Master's in Journalism. Theatre Artist. Writing is My Passion.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related

Qualities of a Great College Paper Writing Service

Compose Paper for Me - Take Care of the...

Bonuses at Online Casinos No deposit required

Why should you pla download from soundcloudy for free?...

Free Online Slot Games With Slot Machine Apps

It is all a game of chance, of course,...