Wednesday, February 1, 2023

क्रोएशिया और कनाडा के बीच खेले गए मुकाबले में भले ही कनाडा को क्रोएशिया से हार का सामना करना पड़ा, लेकिन कनाडा के फुटबॉलर का सिर्फ एक गोल रच गया इतिहास

(नई दिल्ली): ​कतर में रविवार को गोल का तूफान आया। जी हां, यह तूफान फीफा वर्ल्ड कप 2022 में सबसे तेज गोल दाग दिया गया है। क्रोएशिया और कनाडा के बीच खेले गए मुकाबले में भले ही कनाडा को क्रोएशिया से 1-4 से हार का सामना करना पड़ा हो, लेकिन कनाडा के फुटबॉलर का सिर्फ एक गोल इतिहास रच गया।

 

मैच के दूसरे मिनट में इस खिलाडी ने दागा ऐसा गोल

कनाडा के फुटबॉलर अल्फोंसो डेविस ने मैच शुरू होते ही दूसरे मिनट में ऐसा गोल दागा कि दुनिया दंग रह गई। डेविस को टीम के साथी तजोन बुकानन ने दाहिने किनारे से क्रॉस पास दिया जिसे उन्होंने बेहतरीन टाइमिंग के साथ सिर पर लिया और तूफान की गति से हेडर मार नेट को चीर डाला।

ये गोल इतना खतरनाक था कि गोलकीपर इसे रोकने की कोशिश भी कर पाता, इससे पहले ही गेंद नेट से जा टकराई। कतर वर्ल्ड कप 2022 के सबसे तेज गोल को देख क्रोएशिया का गोलकीपर भी दंग रह गया। डेविस ने हेडर से महज 68 सेकंड में गोल कर इतिहास रचा। यह कनाडा का विश्व कप में पहला गोल भी था।

डेविस के गोल ने नीदरलैंड के कोडी गक्पो को छोड़ पीछे

डेविस के गोल ने नीदरलैंड के कोडी गक्पो को पीछे छोड़ दिया जिन्होंने मैच शुरू होने के छठे मिनट में इक्वाडोर के खिलाफ टीम के 1-1 से ड्रॉ में गोल किया था। इससे पहले क्लिंट डेम्पसी ने 2014 में घाना के खिलाफ 29 सेकंड के बाद गोल किया था। अब 68 सेकंड के बाद कनाडा का गोल विश्व कप में ग्रुप चरण के मैच में सबसे तेज गोल है।

अंतरराष्ट्रीय पुरुष फुटबॉल में सबसे तेज गोल का रिकॉर्ड

जर्मनी के स्ट्राइकर लुकास पोडॉल्स्की के पास अंतरराष्ट्रीय पुरुष फुटबॉल में सबसे तेज गोल करने का रिकॉर्ड है, उन्होंने 2013 में इक्वाडोर के खिलाफ किक-ऑफ के बाद महज छह सेकंड के अंदर गोल दागा था।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Popular

More like this
Related